हॉटलाइन: 1800 102 2007
हॉटलाइन: 1800 102 2007
Search Business Opportunities

साइबर क्राइम से बचने के लिए फेसबुक ने निकाला ये रास्ता

उपयोगकर्ताओं के लिए ऑनलाइन गतिविधियां सुरक्षित बनाने के लिए, फेसबुक ने हाल ही में छह भाषाओं में डिजिटल लिटरेसी लाइब्रेरी लॉन्च की है।

By Content Writer
साइबर क्राइम से बचने के लिए फेसबुक ने निकाला ये रास्ता

2018 के अंत तक तीन लाख लोगों को प्रशिक्षित करने और उपयोगकर्ताओं के लिए ऑनलाइन गतिविधियां सुरक्षित बनाने के लिए, फेसबुक ने हाल ही में छह भाषाओं में डिजिटल लिटरेसी लाइब्रेरी लॉन्च की है।

यह कदम फेसबुक के दक्षिण एशिया सुरक्षा शिखर सम्मेलन का एक हिस्सा है जहां फेसबुक के साथ महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने सुरक्षा और टेक्नोलॉजी में नेताओं के एक समूह को इकट्ठा किया।

वहां भारत, श्रीलंका, नेपाल, बांग्लादेश और अफगानिस्तान समेत पांच देशों के 70 से अधिक संगठनों के लोग शामिल हुए थे।

डिजिटल लिटरेसी लाइब्रेरी क्यों?

भारत 23 संवैधानिक मान्यता प्राप्त आधिकारिक भाषाओं के साथ एक विविध देश है। कुल जनसंख्या का केवल 12.18% अंग्रेजी बोलता है। इस भाषा बाधा के बावजूद, भारत में 200 मिलियन से अधिक युवा ऑनलाइन उपयोगकर्ता हैं। यह उन्हें साइबर क्राइम, बच्चें और महिलाओं की तस्करी के लिए अतिसंवेदनशील बनाता है।

विभिन्न भाषाओं में डिजिटल सुरक्षा विषय शुरू करने के पीछे मुख्य उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा भारतीयों तक पहुंचना है।

इस प्रकार, डिजिटल टेक्नोलॉजी का सुरक्षित रूप से आनंद लेने के लिए, आवश्यक कौशल बनाने की आवश्यकता है और डिजिटल सुरक्षा भारतीय नेटीज़ेन (इंटरनेट चलाने वाले) को प्रशिक्षित करने में मदद करेंगे।

डिजिटल सुरक्षा के महत्व पर व्यक्त करते हुए फेसबुक के ग्लोबल हेड फॉर सेफ्टी एंटीगोन डेविस ने कहा, 'डिजिटल लिटरेसी लाइब्रेरी, बाल सुरक्षा हैंकथॉन और कई ऑफलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रमों का लॉन्च हम स्थानीय विशेषज्ञों के साथ साझेदारी में करते हैं, हम गंभीरता से इसकी पुष्टि करते हैं की ऑनलाइन कोई भी किसी भी चीज का दुरूपयोग न कर सके।'

महिलाओं और युवाओं को लक्षित करना

महिलाओं और युवाओं को साइबर क्राइम के लिए सबसे कमजोर माना जाता है। फेसबुक इंटरनेट के आदी लोगों को डिजिटल सुरक्षा के बारे में प्रशिक्षित करने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है।

डेविस ने कहा कि प्रशिक्षण साइबर पीस फाउंडेशन, लर्निंग लिंक फाउंडेशन, इंटरनेट और मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया, गाओन कनेक्शन और सेंटर फॉर सोशल रिसर्च जैसे संगठनों के सहयोग से किया जा रहा है जो मुख्य रूप से महिलाओं और युवाओं के लिए लक्षित है।

डिजिटल लाइब्रेरी की मुख्य विशेषताएं

लाइब्रेरी में रेडी-टू-यूज पाठ हार्वर्ड विश्वविद्यालय में इंटरनेट और सोसाइटी के बर्कमैन क्लेन सेंटर में युवा और मीडिया टीम से लिए गए हैं। यह डिजिटल साक्षरता को संबोधित करने वाले शिक्षकों के लिए एक संसाधन होगा और युवाओं को सुरक्षित रूप से डिजिटल टेक्नोलॉजी का आनंद लेने के लिए आवश्यक कौशल निर्माण करने में मदद करेगा।

टिप्पणी
image
संबंधित अवसर
  • Bike Showroom
    About Us: CREDR BRIEF India’s largest Fully Integrated Ecosystem for Used Two-wheelers,..
    Locations looking for expansion New Delhi
    Establishment year 2015
    Franchising Launch Date 2017
    Investment size Rs. 30lac - 50lac
    Space required 1000
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater Delhi New Delhi
  •   Partner with SOJANYA - one of the trusted Men’s Ethnic..
    Locations looking for expansion Delhi
    Establishment year 1958
    Franchising Launch Date 2018
    Investment size Rs. 5lac - 10lac
    Space required 1000
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater Delhi Delhi
  • Quick Service Restaurants
    About Us: Café 2.o is café from Mumbai known for its..
    Locations looking for expansion Maharashtra
    Establishment year 2016
    Franchising Launch Date 2018
    Investment size Rs. 10lac - 20lac
    Space required 300
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater Mumbai Maharashtra
  • Hotel Chain
    About Us: MINT Brand was founded in Nov. 2015 with a..
    Locations looking for expansion Maharashtra
    Establishment year 2015
    Franchising Launch Date 2018
    Investment size Rs. 50lac - 1 Cr.
    Space required 000
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater Mumbai Maharashtra
शायद तुम पसंद करोगे
Insta-Subscribe to
The Franchising World
Magazine
For hassle free instant subscription, just give your number and email id and our customer care agent will get in touch with you
OR Click here to Subscribe Online
Daily Updates
Submit your email address to receive the latest updates on news & host of opportunities
ज़्यादा कहानियां

Free Advice - Ask Our Experts