व्यवसाय के अवसर खोजें

पालनाघर कैसे शुरू करें ?

इन दिनों माता-पिता चाहते हैं कि उनके बच्चे न सिर्फ शैक्षणिक रूप से सर्वश्रेष्ठ हो बल्कि दूसरी सह-पाठ्यचर्या गतिविधियों में भी अच्छे हो।

By Senior Sub-editor
पालनाघर कैसे शुरू करें ?

इन दिनों माता-पिता चाहते हैं कि उनके बच्चे न सिर्फ शैक्षणिक रूप से सर्वश्रेष्ठ हो, बल्कि दूसरी सह-पाठ्यचर्या गतिविधियों में भी अच्छे हो।

नृत्य शो, अभिनय शो, गायन शो जैसे बच्चों के रियलिटी शोज़ की वजह से बच्चों के भविष्य को तराशने के लिए शिक्षा के अलावा रूचियों का भी महत्व बढ़ गया है। इसलिए अपने बच्चों के सपनों को पूरा करने के लिए माता-पिता अतिरिक्त प्रयास भी करने का तैयार है और साथ ही सर्वश्रेष्ठ माता-पिता कहलाए जाने के लिए वह बच्चों का प्रशिक्षण जल्दी से जल्दी शुरू कर देते हैं।

टेक्नवियो में बाजार अनुसंधान विश्लेषकों ने भविष्यवाणी की है कि शिशु विद्यालय या बच्चों की देखभाल का बाजार पूर्वानुमान अवधि के दौरान प्रभावशाली ढंग से बढ़ेगा और 2020 तक लगभग 22 प्रतिशत सी.ए.जी.आर. अंकित करेगा।

पालनाघर क्षेत्र में व्यवसाय शुरू करने के पहले नीचे दिए गए कुछ बिंदुओं को दिमाग में रखें:

  1. पालनाघर प्रशिक्षण

किसी भी व्यवसाय का पहला और महत्वपूर्ण कदम उस कार्य की तैयारी करना है, जिसे आगे किया जाना है।

एक पूरी पीढ़ी की शिक्षा की नींव आपके पालनाघर में बनने वाली है और यह इस बात पर निर्भर करेगा कि बच्चों को कौन से विद्यालय में प्रवेश मिलेगा और यह सब आपके व्यवसाय और लाभ पर परिलक्षित होगा।

इसलिए कर्मचारियों के साथ ही मालिक को छोटे बच्चों के साथ बर्ताव करने और उनकों विभिन्न चीजें सिखाने के विषय में उचित रूप से प्रशिक्षित होना चाहिए, क्योंकि इन्हीं चीजों से बच्चों को भविष्य में अच्छे विद्यालय में प्रवेश लेने में मदद मिलेगी।

  1. पालनाघर का लाइसेंस और प्रमाणन

एक बार प्रतिष्ठा या ब्रांड बन जाए, तो बड़े बैनर्स के विद्यालयों के साथ जुड़ने से व्यवसाय चल निकलेगा। इसके अलावा आपके व्यवसाय को चलाने के लिए आपको पर्याप्त अच्छी जगह मिलने की भी संभावना होगी।

नया पालनाघर खोलने के लिए प्रमाणन मिलना या किसी प्रसिद्ध ब्रांड की फ्रैंचाइजी खरीदना, इन सब पर पूर्णविराम लग सकता है, अगर व्यक्ति प्रमाणन को गंभीरता से न लें। यह विश्वास की एक कड़ी का काम करता है, जिसके आधार पर माता-पिता अपने बच्चों को संतोषपूर्वक आपके पालनाघर में भेजते हैं।

  1. पालनाघर का निरीक्षण

अगर आपने एक अपार्टमेंट या नजदीक के किसी विद्यालय में पर्याप्त जगह खरीदी है, तो यह पालनाघर खोलने का औचित्य सिद्ध नहीं करता।

पालनाघर बच्चों के लिए सुरक्षित होना चाहिए। इसलिए इसे मुख्य सड़क से दूर होना चाहिए या इसे सुरक्षाकर्मियों से अच्छी तरह से सज्जित होना चाहिए। बच्चों के घर से पालनाघर की दूरी 5 किलोमीटर से ज्यादा नहीं होनी चाहिए, ताकि बिना अपनी नौकरी गंवाए माता-पिता अपने बच्चों को छोड़ने और लेने आ सके।   

पालनाघर में ऐसे खिलौने और उपकरण होने चाहिए जो बच्चों के उपयोग हेतु सुरक्षित हो।

  1. पालनाघर के लिए निवेश और ऋण

बैंक से आसान ऋण लिए जा सकते हैं या दूसरे बड़े स्थापित ब्रांड्स से जुड़ सकते हैं। 

मूल बात यह है कि व्यापार में एक ही बार निवेश करना पड़ता है और फिर कई वर्षों तक प्रतिफल प्राप्त किया जा सकता है।

अगर पालनाघर पहले ही वर्ष में बेहतर प्रदर्शन करता है, तो दूसरे प्रसिद्ध निवेशकों से धन और निवेश मिलने की संभावना बढ़ जाती है।

तो क्या आप यह जोखिम लेने के लिए तैयार है ? महत्वपूर्ण बिंदुओं का पालन करें और अपने आप को बड़ा ब्रांड बनाने की दिशा में पहला कदम उठाएं।

टिप्पणी
SAJU M P : 27, Jun 2018 at 11:26 AM
From where I get Registration for new Day care centre in Kerala
संबंधित अवसर
  • Extra Curriculum Activities
    About Us: Eduisfun’s franchise provides a platform for enhanced gamified learning..
    Locations looking for expansion Maharashtra
    Establishment year 2015
    Franchising Launch Date 2017
    Investment size Rs. 50 K - 2lac
    Space required -NA-
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit, Multiunit
    Headquater Mumbai Maharashtra
  • Furniture/Home Decor & Furnishing
    About Us: ▪ The innovative and creative business concept of ''Paint-Lib''..
    Locations looking for expansion Maharashtra
    Establishment year 2016
    Franchising Launch Date 2017
    Investment size Rs. 10lac - 20lac
    Space required 250
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit, Multiunit
    Headquater Mumbai Maharashtra
  • About Us: Pots and Pans, Launched promoted in India by Meyer..
    Locations looking for expansion New Delhi
    Establishment year 1997
    Franchising Launch Date 2018
    Investment size Rs. 10lac - 20lac
    Space required 500
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater DELHI New Delhi
  • Ice creams & Yogurt Parlors
    About Us: The Pabrai Family has over 30 years of experience..
    Locations looking for expansion West Bengal
    Establishment year 2008
    Franchising Launch Date 2009
    Investment size Rs. 20lac - 30lac
    Space required 400
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit, Multiunit
    Headquater Kolkata West Bengal
शायद तुम पसंद करोगे
Insta-Subscribe to
The Franchising World
Magazine
For hassle free instant subscription, just give your number and email id and our customer care agent will get in touch with you
OR Click here to Subscribe Online
Daily Updates
Submit your email address to receive the latest updates on news & host of opportunities
More Stories

Free Advice - Ask Our Experts