हॉटलाइन: 1800 102 2007
हॉटलाइन: 1800 102 2007
Search Business Opportunities

फ्रैंचाइज़ व्यवसाय के लिए जरूरी है बाजारी प्रतियोगिता से निपटना

हर व्यवसाय एक प्रतियोगिता है और हर प्रतियोगिता एक व्यवसाय।

By Features Writer
फ्रैंचाइज़ व्यवसाय के लिए जरूरी है बाजारी प्रतियोगिता से निपटना

घरेलू और वैश्विक व्यवसाय इंडस्ट्री नए स्टार्टअप और फ्रैंचाइज़ मॉडल्स के उदय देख रहे हैं। व्यवसाय इंडस्ट्री में तकनीकी विकास और प्रभाव के कारण निवेशकों के लिए लगातार संभावनाएं और अवसर बढ़ रहे हैं। शुरूआत में, व्यवसाय केवल अनुभवी निवेशकों के लिए एक खुला मैदान हुआ करता था। लेकिन समय के बदलाव के साथ बहुत से युवा कारोबारी अपने नए, अनोखे और मजेदार व्यवसाय विचारों के साथ इंडस्ट्री में आ रहे हैं।

असल में व्यवसाय की स्थापना का अर्थ है, बहुत सी चुनौतियां जिनसे निपटना जरूरी है। इन बाधाओं से निपटने और सफल बनने के लिए स्टार्टअप और फ्रैंचाइज़रों को इन बिंदुओं पर ध्यान देना चाहिए।

अपनी ताकत पर ध्यान केन्द्रित करें

एक सफल फ्रैंचाइज मालिक बनने के लिए यह जरूरी है कि आप बाजार की मांग को दिमाग में रखते हुए अपनी ताकतों पर ध्यान केन्द्रित करें।आपको एक योजना बनाने की जरूरत है जिसमें ग्राहकों को कोई प्रोडक्ट/सर्विस का ऑफर दिया गया हो जिस कारण आप अन्य प्रतियोगियों से बेहतर बन सकें। इसलिए दूसरों के पदचिन्हों का पीछा करने से ज्यादा बेहतर है कि आप अपनी सोच पर पूरा ध्यान केन्द्रित करने का अहम कदम उठाएं।

अपने प्रतियोगियों पर नजर रखें

हमेशा कोशिश करें कि आप प्रतियोगियों की नकल न करें। इसके बजाय उनकी काम करने की योजना का सम्मान करें और उनकी सफलताओं और गलतियों से सीख लें। यह भविष्य में आपको उनके द्वारा की गई गलतियों को दोहराने से बचाएगी और आपके ब्रांड को बेहतर बनाने में मदद करेगी।
खासतौर पर यदि आप एक नई इंडस्ट्री में है तो निंजा तरीके से खुलकर कार्य करें इससे आपके प्रतियोगियों का आपके ऊपर ध्यान नहीं जाएगा।परिणामस्वरूप, बिना उन्हें एहसास दिलाए आप उनके बाजार के हिस्से पर कब्जा कर सकते हैं।

ग्राहक का मोल पहचाने

बढ़ती प्रतिस्पर्धा से लड़ने का एक सबसे बेहतरीन तरीका है, अपने ग्राहक की उपस्थिति और महत्व को समझे। अंत में ग्राहक ही है जो आपके कारोबार में बिक्री कराएगा। इसलिए उन्हें सबसे प्राथमिकता दें जिससे वे खुश रहेंगे और आपके ब्रांड के साथ हमेशा जुड़े रहेंगे। इस प्रक्रिया से ब्रांड के प्रति ईमानदारी बढ़ेगी जो एक ब्रांड की छवि के लिए बहुत जरूरी है। आशा है इन बिंदुओं को ध्यान में रखकर आप इस प्रतिस्पर्धी बाजार में लंबे समय तक टिक पाएंगे और अपनी उपस्थिति को सफल बना पाएंगे।

टिप्पणी
image
संबंधित अवसर
  • Gyms and Fitness Centres
    About Us: Kris Gethin Gyms’ Mission is to Transform India, not..
    Locations looking for expansion Delhi
    Establishment year 2007
    Franchising Launch Date 2018
    Investment size Rs. 2 Cr. - 5 Cr
    Space required 5000
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater New delhi Delhi
  • Bike Reselling
    About Us: Introducing your very own Pre-owned two-wheeler destination. Now get rid..
    Locations looking for expansion Delhi
    Establishment year 2015
    Franchising Launch Date 2018
    Investment size Rs. 5lac - 10lac
    Space required 800
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater New delhi Delhi
  • Car wash / Ceramic Coating / Detailing
    COZI CARS - Mobile Car Wash/Spa & Detailing Franchise Opportunity You Must GRAB!!..
    Locations looking for expansion New Delhi
    Establishment year 2010
    Franchising Launch Date 2014
    Investment size Rs. 10lac - 20lac
    Space required -NA-
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit, Multiunit
    Headquater New Delhi New Delhi
  • Fashion Accessories
    About Us: Franchise Partners Invited for KOREA’S DESIGNER LIFESTYLE BRAND  Beccos, a..
    Locations looking for expansion Delhi
    Establishment year 2018
    Franchising Launch Date 2019
    Investment size Rs. 50lac - 1 Cr.
    Space required 800
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater New delhi Delhi
शायद तुम पसंद करोगे
Insta-Subscribe to
The Franchising World
Magazine
For hassle free instant subscription, just give your number and email id and our customer care agent will get in touch with you
OR Click here to Subscribe Online
Daily Updates
Submit your email address to receive the latest updates on news & host of opportunities
ज़्यादा कहानियां

Free Advice - Ask Our Experts