व्यवसाय के अवसर खोजें

यही वजह है कि फ्रैंचाइज़र्स ग्राहकों को लुभाने के लिए अनुभवात्मक विपणन का इस्तेमाल कर रहे हैं

प्रत्येक छोटेऔरबड़े व्यवसाय का संघर्ष खरीद से कहीं ज्यादा के लिए होता है जिसकी वजह से ग्राहक ब्रांड की सराहना करते हुए जीवन भर के लिए उससे जुड़ जाते हैं।

By Jr. Writer
यही वजह है कि फ्रैंचाइज़र्स ग्राहकों को लुभाने के लिए अनुभवात्मक विपणन का इस्तेमाल कर रहे हैं

ड के प्रति निष्ठा स्थापित करना ग्राहकों का विश्वास जीतने का एक तरीका है और दूसरा तरीका है अनुभवात्मक विपणन तकनीक द्वारा उनका ध्यान आकर्षित करना।

अनुभवात्मक विपणन तकनीक आमतौर पर अभिनव और गहरे अनुभवों के माध्यम से ग्राहकों को आकर्षित करने की प्रक्रिया है।

परवेज नास्याम, मुख्य कार्यपालक अधिकारी और प्रबंध निदेशक कहते हैं, ‘फ्यूजन इनोवेशन लेब उन विभिन्न चीजों की हमारी प्रदर्शन-मंजूषा है जो हम अनुभवात्मक विपणन की दुनिया में पेश कर सकते हैं। हम ग्राहको की आवश्यकता के आधार पर सुधार और नवाचार कर सकते हैं।’

व्यापार की दृश्यता को बढ़ाता है

फ्रैंचाइजर्स को धीरे-धीरे अनुभवात्मक विपणन की वास्तविक क्षमता समझ में आ रही है जो ग्राहकों को एक-दूसरे के साथ ज्यादा जोड़ता है। ग्राहक व्यापार की दृश्यता बढ़ाने के साथ ब्रांड की छवि बनाने के लिए इसे सबसे उत्तम साधनों में से एक मान रहे हैं।

उद्यमियों को कार्यक्रम आयोजित करते हुए, पॉप-अप्स, गतिविधियाँ और सामाजिक मीडिया के लायक इंस्टालेशन करते देखा जाता है क्योंकि यह अनुभवात्मक विपणन तकनीक के महत्वपूर्ण तत्व हैं।

समुदाय को बढ़ावा देता है

आखिरकार अनुभवात्मक विपणन तकनीक ग्राहक के साथ सुगम संवाद स्थापित करने के बारे में है। फ्रैंचाइजर्सअनुभवात्मक विपणन को एक साधन की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं जिससे ग्राहकों को ब्रांड के साथ सार्थक तरीके से संवाद करने,और एक-दूसरे से घुलने और मिलने का मौका मिलता है। यह उत्पाद या सेवा को बेचने के लिए समान विचारधारा वाले ग्राहकों का समुदाय बनाने के बारे में है।

रॉन फेरिस, एन.वाय.सी डिजिटल स्टूडियो के प्रधान प्रबंधक कहते हैं कि ‘अनुभवात्मक विपणन उन अनुभवों को बनाने के बारे में है जो ज्यादा गहरे हैं और इस तरह की ऊर्जा उत्पन्न करते हैं जो ई-कामर्स और एक दुकान से परे है।’

महत्वपूर्ण बाजार पर पकड़ बनती है

विस्तृत विपणन अनुसंधान एक संगठन को अंततः लाभ पंहुचाता है। लेकिन ग्राहकों की निरंतर बदलती मानसिकता के साथ फ्रैंचाइजर्स को विपणन रणनीति में नव-परिवर्तन लाने की जरूरत है। एक ब्रांड के साथ युवा ग्राहक का संबंध अतीत की तुलना में कही ज्यादा भावनात्मक है।

अनुभवात्मक विपणन, उद्यमियों को प्रचलित बाजार पर अपनी पकड़ बनाने का बड़ा अवसर प्रदान करता है क्योंकि अब ब्रांड नहीं बल्कि समुदाय, संबंधों की शर्तों का निर्धारण करते हैं।

टिप्पणी
संबंधित अवसर
  • Preschools
    About Us: The brand proven for revolutionary change in education sector...
    Locations looking for expansion Delhi
    Establishment year 2015
    Franchising Launch Date 2015
    Investment size Rs. 10lac - 20lac
    Space required 3000
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit, Multiunit
    Headquater New delhi Delhi
  • Tea and Coffee Chain
    About: High on Tea is a popular and interesting tea café..
    Locations looking for expansion Maharashtra
    Establishment year 2015
    Franchising Launch Date 2017
    Investment size Rs. 10lac - 20lac
    Space required 500
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater Mumbai Maharashtra
  • About Us: Chaat Ok Please is brought to you by Black..
    Locations looking for expansion Maharashtra
    Establishment year 2015
    Franchising Launch Date 2015
    Investment size Rs. 5lac - 10lac
    Space required 50
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit, Multiunit
    Headquater Mumbai City Maharashtra
  • Bakery & Confectionary
    we have started our brand in 2016 with 2 shops..
    Locations looking for expansion maharastra
    Establishment year 2016
    Franchising Launch Date 2016
    Investment size Rs. 5lac - 10lac
    Space required 100
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater pune maharastra
शायद तुम पसंद करोगे
Insta-Subscribe to
The Franchising World
Magazine
For hassle free instant subscription, just give your number and email id and our customer care agent will get in touch with you
OR Click here to Subscribe Online
Daily Updates
Submit your email address to receive the latest updates on news & host of opportunities
More Stories

Free Advice - Ask Our Experts