व्यवसाय के अवसर खोजें

हमारा 95% कारोबार फ्रैंचाइजी मॉडल पर निर्भर है : मनिंदर गुलाटी

OYO के चीफ स्ट्रैटेजी ऑफिसर, मनिंदर गुलाटी फ्रैंचाइजिंग का महत्व और उससे उनके कारोबार को कैसे बढ़ावा मिला है, इस पर अपने मत साझा करते हैं।

By sub-editor
हमारा 95% कारोबार फ्रैंचाइजी मॉडल पर निर्भर है : मनिंदर गुलाटी

अतिथि-सेवा व्यवसाय OYO ने अपनी एकत्रीकरण की नीति को बदल कर फ्रैंचाइजिंग का प्रारूप अपनाया इस बात को लेकर एक प्रमुख समाचार-पत्र ने छापे हुए समाचार को लेकर कुछ मीडिया समूहों ने माहौल बना रखा था। ऐसे में OYO के चीफ स्ट्रैटेजी ऑफिसर, मनिंदर गुलाटी ने इंडियन रिटेलर के साथ एक विशेष साक्षात्कार में पूरे विवाद के बारे में सारे संदेह दूर कर दिए।

OYO जैसे बिलियन डॉलर ब्रांड के लिए एकत्रीकरण एक छोटा-सा शब्द है। “हमने बहुत कम समय में हमारे कारोबार को ऊंचाईयों पर पहुंचा दिया, जिसके कारण कई लोग हमारे व्यवसाय मॉडल का अनुसरण करने के लिए प्रोत्साहित हुए और उन्होंने ही इसे एकत्रीकरण ये नाम दिया।“ लेकिन कंपनी किसी एक खास व्यवसाय नीति को अपनाने से इन्कार करती है और उसकी जरूरत के हिसाब से अलग-अलग रणनीतियों पर चलती आ रही है। “पारम्परिक भाषा में एकत्रीकरण, आंशिक फेहरिस्त मामले का भाग था, जो 14 महीने पहले खत्म हुआ।”, वे आगे कहते हैं।

वह कौन-सी व्यापार-नीति है, जिसने आपके ब्रांड को इतना लोकप्रिय किया?

OYO व्यवसाय सिर्फ OYO कमरों तक ही सीमित नहीं है। OYO टाऊन हाउस और OYO होम्स जैसे अन्य उद्यम भी शामिल हैं। संगठन के 3000 से अधिक फ्रैंचाइजी हैं और ये संख्या हर दिन 400 के हिसाब से बढ़ती जा रही है।

हमारा पहला लक्ष्य है, अतिथि-सेवा क्षेत्र में हमारे ब्रांड को स्थापित करना, जिसके लिए हम बाजार मानकों के मुताबिक हमारी हर संपत्ति को निखारते रहते हैं। ग्राहकों की प्रतिक्रिया के अनुसार, OYO हर हफ्ते अपने होटलों की लेख-परीक्षा करता है। संक्षेप में, हम हमारे होटल्स चलाते हैं, उनका स्टैंडर्डाइज करते हैं और वितरण करते हैं। चीनी कंपनियों के बाद हम पहले हैं, जिनका 95% व्यवसाय खुद के प्लेटफार्म से आता है, जिसमें हमारा एप्प, वेब और ऑफलाइन नेटवर्क शामिल हैं।

मौजूदा हालात में, हमारा 95% व्यवसाय फ्रैंचाइजी प्रारूप पर आधारित है। हमने हमारी लगभग 500 प्रॉपर्टीज में कर्मचारियों की भर्ती की है, जहाँ पर हमने वास्तव में ‘मैनचाइज’ करके अपने प्रबंधक नियुक्त किए हैं। ये फ्रैंचाइजी के लिए दोहरे फायदे की बात है, जहाँ पर उन्हें ना केवल एक सुप्रतिष्ठित ब्रांड मिलता है, बल्कि संचालन के मानक, एक मार्गदर्शित रेवेन्यू मॉडल और एक टीम भी मिलती है, जो वितरण में सक्रीय रूप से भाग लेती है।

OYO का फ्रैंचाइजिंग पार्टनर होने के लिए पात्रता की कसौटी क्या है?

OYO परिवार का सदस्य बनने के लिए, एक होटल को संरचना, कानूनी पहलू, कर्मचारी और सेवाओं की मूलभूत कसौटियों को पूरा करना होगा। पहले तो, होटल कम से कम 4 मंजिला इमारत होनी चाहिए और उसमें 12 से 15 कमरे होने चाहिए। दूसरा ये कि संपत्ति किसी कानूनी उलझन में फंसी हुई नहीं होनी चाहिए। तीसरा, साफ-सफाई और खान-पान सेवा के मामलों में परिपूर्ण रूम सर्विस और किचन सर्विस होनी चाहिए तथा फ्रंट ऑफिस में पर्याप्त कर्मचारी संख्या होना भी आवश्यक है।

आप उन्हें किस प्रकार की सहायता और प्रशिक्षण देते हैं?

आज, हमारे पास 3000 से अधिक होटलों में सम्पूर्ण परीक्षण आधार पर 50000 से ज्यादा क्लब कीज हैं। हम हर महीने करीब 7000 जगहें जोड़ते हैं। हम इन संपत्तियों को रूपांतरण, मानकीकरण, वितरण और रेवेन्यू मॉडला तय करने में मदद करते हैं। हम 95% से अधिक ग्राहकों को OYO एप के जरिए पाते हैं। असल में,  हमारा पूरा संगठन एप्प के इर्द-गिर्द बनाया गया है। हम अपने भागिदारों को कई एप देते हैं, संपत्ति एप, एक समग्र एप, जिसके द्वारा सम्पूर्ण OYO परिवार एक दूसरे से जुड़ा हुआ है। संपत्ति के स्वामी का एप, व्यवसाय का दैनिक, साप्ताहिक और मासिक आधार पर नियमन करने वाला एप – ऐसे कई एप्स का समावेश है। ये फ्रैंचाइजी के लिए दोहरे फायदे का मॉडल है, जिसमें  ‘OYO Captain’ जैसा एप भी है, जो ग्राहकों की प्रतिक्रियाओं का विश्लेषण करता है और ग्राहक सेवाएं सुधारने तथा प्रभावी करने में मदद करता है।

यही नहीं हम विशेष रूप से प्रयत्न कर हमारे भागिदारों को रेवेन्यू मैनेजमेंट में मदद करते हैं। हमारी पूरी ऑनलाइन टीम आगे आकर booking.com, Paytm जैसे भागीदारों के साथ काम करती है, ताकि हम ज्यादा से ज्यादा व्यवसाय उत्पन्न कर सकें। मॉडल कई सारे डेटा विज्ञान, कीमतों की प्रणालियां और वितरण रणनीति मंचों के आधार पर काम करता है और व्यवसाय की पूरी प्रक्रिया को गतिमान करता है।

और तो और भारत में हम पहले हैं, जिन्होंने मैनचाइज मॉडल लागू किया, जिसके जरिए हम खुद होटल के कर्मचारी नियुक्त करते हैं। हम अपने कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने के लिए OYO स्किल्ड इन्स्टिट्यूट भी चलाते हैं।

एक होटल से आप कम से कम कितने निवेश की अपेक्षा करते हैं ?

हमने उत्पन्न किए हुए व्यवसाय में से हम 20-25 प्रतिशत लेते हैं। पैसे को अलग अलग टुकड़ों में बांटने की बजाय हम एक मुश्त रकम लेते हैं और उसमें से 300-400 डॉलर्स रूम के नवीनीकरण पर खर्च करते हैं।

टिप्पणी
संबंधित अवसर
  • Frontier Biscuits - a very renowned name in Bakery sector..
    Locations looking for expansion New Delhi
    Establishment year 1950
    Franchising Launch Date 1995
    Investment size Rs. 5lac - 10lac
    Space required 150
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit, Multiunit
    Headquater West Delhi New Delhi
  • Others Dealers And Distributors
    Oswaal Books is India’s fastest growing publishing house, started by..
    Locations looking for expansion Delhi
    Establishment year 1984
    Franchising Launch Date 2018
    Investment size Rs. 5lac - 10lac
    Space required -NA-
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater New delhi Delhi
  • Womens Wear
    About: Founded in 2014, Varanga is a progressively - growing fashion..
    Locations looking for expansion Delhi
    Establishment year 2014
    Franchising Launch Date 2018
    Investment size Rs. 20lac - 30lac
    Space required 400
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater New delhi Delhi
  • Casual dine Restaurants
    About: Gola Sizzlers is a well established authentic chain of restaurants..
    Locations looking for expansion Delhi
    Establishment year 2015
    Franchising Launch Date 2018
    Investment size Rs. 50lac - 1 Cr.
    Space required 1500
    Franchise Outlets -NA-
    Franchise Type Unit
    Headquater New delhi Delhi
शायद तुम पसंद करोगे
Insta-Subscribe to
The Franchising World
Magazine
For hassle free instant subscription, just give your number and email id and our customer care agent will get in touch with you
OR Click here to Subscribe Online
Daily Updates
Submit your email address to receive the latest updates on news & host of opportunities
More Stories

Free Advice - Ask Our Experts